Monday, August 20, 2018

Maiya Ke Jaisa Dwar Kahin Bhi Nahi

------ तर्ज:- सोचेंगे तुम्हे प्यार करें के नहीं ------
------ फिल्म:- दीवाना ------

मैया के जैसा द्वार कहीं भी नहीं,
यह सांचा दरबार कहीं भी नहीं - मैया के जैसा प्यार कहीं भी नहीं,
मैया ने बुलाया जिसको सीने से लगाया उसको,
ममता का ऐसा आलम कहीं भी नहीं || मैया ||

मैया सबारी करे पीले शेर पर - बेटा बुलाये तो माँ आये दौड़कर,
मैया सबकी पीर हरे - सबके संकट दूर करे,
माँ को जो दीदार करे - माँ उसके भंडारे भरे,
मैया को खजाना कभी होगा न कम || मैया ||

अम्बर सा ऊंचा है मैया का भुवन -  सागर सा गहरा है मेरी माँ का मन,
लाल कपाल पे बिंदिया लगी - लाल चूनर गोटे से जड़ी,
लहर लहर लहराए रही - लाल ध्वजा फेहराये रही,
लालों पे बरसता है भाई का करम || मैया ||

अम्बे भबानी माँ ज्योता बालिये - माँ भगबती माँ पहाड़ा बालिये,
मैया जी के द्वार चलो - मैया का गुणगान करो,
दया करो कुछ दान करो, माँ चरणों में ध्यान धरो,
मैया के भजन को गाओ, लिखो रे "पदम्" || मैया ||

-: इति :-


Share:

0 comments:

Post a Comment

Contributors

Follow by Email

Archives