Tuesday, October 24, 2023

No din sabke sankat harna

     तर्ज़:-  बाबुल की दुआएं लेती जा -------

    फिल्म,:-  नील कमल

               // माता का विदाई गीत //


      नो दिन सबके संकट हरना ।

      दसवें दिन माई चले जाना ।।

      भक्तों के भंडारे भरना ।

      दसवें दिन माई चले जाना ।।

(1) नहीं पूड़ी हलुवा पास मेरे ,

      तुम्हे भोग लगाऊं में कैसे ,

     नारियल निबुआ की भेंट धरी

     तुम्हे माई मनाऊं में कैसे 

     मुझ दिन दुखी पे दया करना ।।

     दसवें दिन माई चले जाना ।।

(2)कोड़ी को काया मिलती है

    निर्धन को मां धनवान करे

    भक्ति को शक्ति मिलती है

    निर्बल को मां बलबान करे

    बांझन को मां दे कर ललना

   दसवें दिन माई चले जाना ।।

(3) महा माई "पदम" की अरज सुनो

    मेरे सर पर आपका हाथ रहे

    निस दिन मां का गुणगान करूं

    बस इतना आशीर्वाद रहे

   ममता को द्वार खुले रखना ।।

  दसवें दिन माई चले जाना ।।

  नो दिन सबके संकट हरना ।

  दसवें दिन माई चले जाना ।।

               ** इति **
  
Share:

Friday, September 1, 2023

Dekho re dekho Chand pahuncha

     तर्ज़:-चांदी जैसा रंग है तेरा,सोने जैसे बाल ।

                        // गीत//

    देखो रे देखो चांद पे पहुंचा,मेरा चंद्रयान


    एक तू ही है महान जगत में,प्यारा हिंदुस्तान ।।

(1) 14जुलाई 23 को यह चंद्रयान जब छोड़ा ,

     विक्रम सफल पूर्वक उतरे,उम्मीदों को जोड़ा

     इसरो की मेहनत रंग लाई,जीत गया विज्ञान।।

     एक तू ही है महान जगत में,प्यारा हिंदुस्तान ।।

(2)धरती माता कहलाती,चंदा मामा कहलाता,

    श्रावण माह में भाई बहन ने जोड़ा अपना नाता,

    विश्व गुरु हमें बनना है, हैं भारत के अरमान ।।

    एक तू ही है महान जगत में, प्यारा हिंदुस्तान ।।

(3)दिन तारीख ,समय महीना,निर्धारित किया सारा,

    चांद के साउथ पोल पे जब लहराया तिरंगा प्यारा

     "पदम"देश के कीर्तिमान को, देखे सकल जहान ।

      एक तू ही है महान जगत में, प्यारा हिंदुस्तान ।।

                             !! इति !


                         


Share:

Thursday, July 13, 2023

Shish ka Dan Kiya,vah khatu shayam he

    तर्ज़:- सो साल पहले,मुझे तुमसे प्यार था

     फिल्म:-         



                       खाटू श्याम का भजन 

         शीश का दान किया,वह खाटू श्याम हे - 2

        आज भी है और कल भी रहेगा ।।

        नीले घोड़े बाला, मेरा खाटू श्याम है -2

Share:

Mat anjni ka lala,veer hanuman he

       तर्ज:- सो साल पहले,मुझे तुम से प्यार था ।

                 //  हनुमान जी का भजन //

          मात अंजनी का लाला,वीर हनुमान है ।

                                      बड़ा बलवान है ।

         आज भी है और कल भी रहेगा ।। मात।।

         सूरज निगलने बाला,वीर हनुमान है

                                  बड़ा बलवान है

         आज भी है और कल भी रहेगा ।। मात ।। 

 (1)    तुम सागर लांघ गए,सीता की सुधि लाए,

        शक्ति लगी लक्ष्मण को,संजीवनी ले आए

        लक्ष्मण जिलाने बाला ,वीर हनुमान है ।।

                                     बड़ा बलवान है ।

        आज भी है और कल भी रहेगा ।। मात ।। 

(2)    तुम विक्रम बजरंगी,तुम संकट मोचन हो

        मारूति नंदन हो,तुम असुर निकंदन हो 

        राम काज करने बाला,वीर हनुमान है ।

                                     बड़ा बलवान है

       आज भी है,और कल भी रहेगा ।। मात ।।

(3)  श्री राम के चरणों में,हनुमान बसते हैं

       हनुमान के हृदय में,श्री राम बसते हैं

      "पदम"राम भजने बाला,भगत महान है।

                                 बड़ा बलवान है

       आज भी है और कल भी रहेगा ।। मात ।। 

                        // इति//



Share:

Saturday, July 8, 2023

Chalo bageshwar dham,chalo

    तर्ज:- ( राई )राम रंग में रंगे,सीता रंगी हरदी में





    चलो बागेश्वर धाम,चलो बागेश्वर धाम ।

    कृपा करेंगे हनुमान जी ।।

    संकट हरेंगे,हनुमान जी ।।

    इन्हे करलो प्रणाम,इन्हे करलो प्रणाम ।

    कृपा करेंगे हनुमान जी ।।

(1)मध्य प्रदेश में जिला छतरपुर,

    ग्राम गड़ा में बनो है मंदिर

    जपलो सीताराम,भजलो सीताराम  ।।कृपा ।। 

(2) बागेश्वर की है महिमा न्यारी 

    दुखी जनों की भीड़ हे भारी

    बनजे बिगड़े काम, बनजे बिगड़े काम -2 ।।कृपा ।। 

(3) जो कोई  अपनी अर्जी लगावे

    भूत प्रेत डर कर भग जावे

    तुम्हारे दर के गुलाम, तुमरे दर के गुलाम-2 ।।कृपा ।।

(4) सन्यासी को नाम बड़ो है

    "पदम" तुम्हारी शरण पड़ो हे

     जपते सुबह शाम, जपते सुबह शाम।।

   ।। कृपा करेंगे हनुमान जी ।।

    संकट हरेंगे हनुमान जी ।।

                           // इति//


Share:

Pachchis sal pahle Manoj Seema ka

        तर्ज़:-  सो साल पहले मुझे तुमसे प्यार था

                            //गीत//


    पच्चीस साल पहले,मनोज सीमा का ब्याह था

                                  दोनो में बहुत प्यार था ।

    आज भी हे और कल भी रहेगा ।

(1) तारीख भी बाइस है,और जून महीना है

     सब काम हुऐ पूरे,खुशहाल में जीना है

     मुझे नर्मदे मां ने दिया उपहार था  - 2 ।।आज भी ।।


(2) देवी और देवों ने , कृपा बरसाई हे

    आशीष पिता मां की रंग पे रंग लाई है

     धन और वेभव मिला बेशुमार था -2  ।। आज भी ।।

(3) तेरे जीवन की बगिया हर दम गुलजार रहे

     गुलशन महके ऐसा तेरा परिवार रहे "

"पदम"सबसे मिलने को जिया बे करार था -2

     आज भी है और कल भी रहेगा ।।

                     // इति//


Share:

Ladli behna ki sunkar pukar

        तर्ज़:- आने से उसके आए बहार जाने से उसके

       फिल्म:-जीने की राह

                                   //गीत//  
     लाड़ली बहना की सुनके पुकार,
     हर महीने रुपए मिलेंगे हजार
    बहनों का दुलारा है ।।शिवराज भैया ।।
    दुखियों का सहारा है ।।शिवराज भैया ।।
                      अंतरा
   शिवराज भाई का कहना,
  आत्मनिर्भर तुम्हे है बनाना ।
  मध्य प्रदेश की बहना,
  सब मिलकर के खुशियां मनाना
  कमल खिला,सबको मिला,
  सी. एम. बड़ा प्यारा है ।। शिवराज भैया ।।
  बहनों का दुलारा है ।। शिवराज भैया ।।
                      //इति//
Share:

Dandrau dham alvela

  तर्ज़:- ऐसी  दुपहरिया न जाऊं रे डोली पिछवाड़े रख दो                             भजन

          दंडरौआ धाम अलबेला ।

          लगे संतों का मेला ।।

      संतों का मेला, लगे भक्तों का मेला ।

      दंदरौआ धाम अलबेला, लगे संतों का मेला ।।
(1) उत्तर प्रदेश में भिंड जिला है
     दंदरौआ में मंदिर मिला है
     राम को भगत अकेला ।। लगे संतों का मेला ।।
(2) डाक्टर हनुमान कहलाते,
     सबके संकट दूर भगाते
     पैसा लगे ना धेला  ।। लगे संतों का मेला ।।
(3)  दंदरौआ की महिमा न्यारी
     हनुमत भक्तों के हितकारी
    जो भी गिरा तुमने झेला ।। लगे संतों का मेला ।।
(4) संत महंत हे गुरुवर ज्ञानी
    सतगुरु की है अमृत वाणी
    आप गुरु हम चेला ।। लगे संतों का मेला ।।
(5) भगत अखंड पड़ें रामायण 
     "पदम" ने जीवन कर दिया अर्पण
      जग हे झूठा झमेला ।। लगे संतों का मेला ।।
                         //इति//
Share:

Nasha bura janjal na aadat dal

        दोहा:- नशा ना नर को चाहिए,द्रव्य बुद्धि हर लेय

                 एक नशा के कारीने,सब जग तारी देय

                          //गीत//
       नशा बुरा जंजाल, ना आदत डाल ,
      मेरा समझाना,नसीयत पर ध्यान लगाना ।।
(1) जो चाय पीते गरम गरम
     दिन भर पीते ना आए शर्म
     मिट जाए भूख नहीं खाए पेट भर खाना ।
                       नसियत पर ध्यान लगाना ।।
(2) जो बीड़ी सिगरेट पीते है
     तन सुखा सुखा कर जीते है
     जल जाए जिस्म खांसी में खून का आना ।
                        नसियत पर ध्यान लगाना ।।
(3) जो गांजा पीते मसल मसल
     उनकी शकल लगे उजड़ी फसल
     अब तो छोड़ो गांजे की चिलम चढ़ाना।
                       नसीयत पर ध्यान लगाना ।।
                       // दोहा//
            जल थागन वैराग्य हटन,पंथ कुबाहन कोन।
           सबल शाह ऐंसी लिखी, त्रिया भेज दो जोन ।।
           द्रव्य नाश कारण लगे,काम हीन मति भंग ।
           ऐसे कपटी मित्र  को,   छोड़  देव सत्संग ।।
(4) जो जर्दा गुटका खाते हे
      फिर जीभ गाल गल जाते है 
      बड़ जाए रोग आपरेशन पड़े कराना।
                      नसीयत पर ध्यान लगाना ।।
(5) जो शराब पीते घड़ी घड़ी
     उनकी मृत्यु द्वारे पर खड़ी
     यूं कहे "पदम"बच्चों से इसे बचाना ।।
                      नसीयत पर ध्यान लगाना ।। 
                         //इति//


Share:

Sunday, April 9, 2023

Kaliyug ke raja,Nile ghode pe aaja

    तर्ज़:- उज्जैन के राजा , करो कृपा नजरिया

             //  खाटू श्याम का भजन//

दोहा:::घोर नरक में जायेगा, जो काम करे शैतान का ।

         पापी भी तर जाता है,यह दर है खाटू श्याम का ।।

    कलियुग के राजा,नीले घोड़े पे आजा 

    गिरतों को थामना रे।। ओ खाटू बाबा ।। 

    खाटू नरेशा , नीले घोड़े पे आजा 

    गिरतों को थामना रे।। ओ खाटू बाबा ।।

(1) शीश के दानी तुम हो कहाते

     भटके हुओं को बाबा राह दिखाते -2 

      तुम्ही नैया ,तुम्ही किनारा ,

     भक्तों को तारना रे ।। ओ खाटू बाबा ।। 

(2) तुम हो दाता हम दुखियारे 

     हाथ रखो बाबा सर पे हमारे -2 

     एक तुम्ही हारे का सहारा 

    हम को सम्हालना रे।। ओ खाटू बाबा ।। 

(3) कृष्ण कन्हैया के तुम अवतारी 

     "पदम"तेरे चरणों का पुजारी -2

     श्याम धनी बाबा है हमारा 

     दर्शन की कामना रे।। ओ खाटू बाबा ।। 

                    ;; इति ;;





                        

    


Share:

More angna padharo Maiya sharde ho maa

   तर्ज़:-- तोरे मड़ पे बदरा हो रहे हो मां

               // देवी भजन //

     मोरे अंगना पधारो मैया शारदे हो मां

     मैया सुनलो हमरी पुकार हो 

     मोरी मैया महारानी ।। मोरे अंगना पधारो मैया ।।

(1) कब आयेगी मैया राह निहारें 

      दुखन लागे मैया नयन हमारे 

      मैया कर दईयो उपकार हो 

      मोरी मैया महारानी ।। मोरे अंगना पधारो मैया ।।

(2) दया करो जी मैया मैहर बाली 

      तुम ही दुर्गा तुम ही काली 

      मैया तोरे रूप हजार हो 

      मोरी मैया महारानी ।। मोरे अंगना पधारो मैया ।।

(3) ऊंचे पहाड़ा मां के भुवन बने है

     भुवन में मैया जी के आसन लगे है

     मैया लाल लाल मैया को सिंगार हो 

     मोरी मैया महारानी।। मोरे अंगना पधारो मैया ।।

(4) सुमर सुमर मैया तोरे जस गांवे

     जन्म जन्म के दुःख बिसरावें 

     मैया पदम करे जयकार हो 

     मोरी मैया महारानी ।। मोरे अंगना पधारो मैया ।।

                    ;; इति ;;










Share:

Sunday, March 12, 2023

Holi khele oghadiya masana me

    तर्ज़:-होरी खेले रघुवीरा,अवध में होरी खेले रघुवीरा 

                  // मसाना की होली //

    होली खेले ओघड़िया, मसाना में ।

    होली खेले ओघड़िया ।।


(1) हिल मिल आवे भूत, खब्बीसा- 2

     बाजे ढोल नगड़िया ।। मसाना में ।। 

(2) प्रेत ,पिसाच , चुड़ेलन  नाचे-2

     नाचे होली को रसिया ।। मसाना में होली ।।

(3) गांजे की वह चिलम चढ़ाए, -2

    लौटे से पीवे भंगिया।। मसाना में होली ।।

(4) "पदम" वह मल मल अंग लपेटे, -2

     मरघट की राखुड़िया ।। मसाना में होली ।।

    होली खेले ओघड़िया ।। मसाना में होली ।।

                           !! इति !!

 

Share:

Friday, November 11, 2022

Kartik mahina bada hi pavan

    तर्ज़:- स्वर्ग से सुंदर सपनों से प्यारा 

   फिल्म:- घर द्वार 

                 ** कार्तिक भजन ** 

    कार्तिक महीना बड़ा ही पावन,महिमा बड़ी महान 

    स्वर्ग छोड़ कर धरा पे आए,श्री विष्णु भगवान 

    चलो रे चलो दर्शन करलो

    मुरादों से झोली भरलो ।। 



(1) जो जन कार्तिक मासे,सरिता जल बीच नहाए 

      गंगा जमुना सरस्वती ,स्नान का फल वह पाए 

      राधे कृष्ण का चिंतन करलो

      कह गए वेद पुराण।।चलो रे चलो दर्शन करलो।।

(2)मध्य महीने पूजन,लक्ष्मी जी की फल दाई। 

    सालिगराम और तुलसीजीने,व्याह की रीत निभाई 

    तुलसी पूजन कर परिक्रमा,

    हो जाए कल्याण।। चलो रे चलो दर्शन करलो।।

(3) हरे गन्ने का मंडप,हरी के मन अति भाते है

    पूनम को विष्णु जी, वेकुठ चले जाते है 

    हरी चरणों में प्रीत लगाले,

    भली करें भगवान ।।चलो रे चलो दर्शन करलो।।

(4) कार्तिक मास की पूनम,स्नान दान कर प्राणी 

      भव सागर तर जाए,यह कह गए ज्ञानी ध्यानी 

     श्री लड्डू गोपाल का निस दिन 

     "पदम"करे गुणगान।।चलो रे चलो दर्शन करलो।।

                            !!इति!!












   

Share:

Wednesday, November 2, 2022

Ambe jagdambe aaye tumhri duariya

     तर्ज़:- उज्जैन के राजा,करो कृपा नजरिया........

दोहा:- बाबा बाबा सब कहे,माई कहे ना कोय

         बाबा के दरबार में, माई करे  सो होय 

              *महा काली भजन*

    अम्बे जगदम्बे आए तुम्हरी दुअरिया,

    दर से ना  टालना रे ।। ओ माता रानी ।।

    काली महा काली लेलो हमरी खबरिया ,

    दर से ना टालना रे ।। ओ माता रानी ।।

(1) महिषासुर दानव बल शाली 

     दुर्गा से बन गई,माता महाकाली -2

     दुष्ट जनों को मैया संघारो

     भक्तों को तारना रे ।। ओ माता रानी ।।

(2) रण में चली मां लेके दुधारी 

     लट बिखराये करे सिंघा सबारी -2

    शुंभनिशुंभ जो लड़ने को आये

    रण में पछाड़ना रे ।। ओ माता रानी ।।

(3) हाथों में खप्पर नेनो में ज्वाला

     पहने गले में मुण्डों की माला -2

    क्रोध की अग्नि शीतल भई जब 

    शिवजी का सामना रे ।। ओ माता रानी ।।

4)"पदम"हे मां के दर का भिखारी 

    मैया हरो हर विपता हमारी -2 

    करुणामयी माँ थोड़ी सी ममता 

   झोली में डालना रे ।।.ओ माता रानी ।।

                      **इति **


   















 

Share:

Friday, September 2, 2022

Riddhi siddhi ke data kripa nazariya

  

    तर्ज़:- उज्जैन के राजा करो कृपा नजरिया........                                   ।। दोहा ।।

  ज्ञान गणपति दीजिए,साहस भी दो परवाज़ का । 

 काम हो जाए सफल ,जो भजन करे गणराज का ।।

                   // श्री गणेश जी का भजन//

    रिद्धि सिद्धि के दाता, कृपा नज़रिया,

    भक्तों पे डालना रे।।ओ गणपति देवा ।।

    बुद्धि विधाता करो कृपा नज़रिया,

    भक्तों पे डालना रे ।।ओ गणपति देवा ।।

(1) पार्वती के प्राणों से प्यारे 

     भोले शिव के तुम दुलारे-2


     भादों चतुर्थी को जन्म लिया है 

     झूले है पालना रे ।। ओ गणपति देवा ।।

(2) मूषे पर बेठे है गणेशा

     प्रथम सुमर कटे विघ्न कलेशा -2

     दया नजर अब कर के हमारे,

     संकट भी टालना रे ।।ओ गणपति देवा ।।

(3) आपकी पूजा भगति न जानूँ

     कैसे मिलेगी मुक्ति ना जानू -2

   " पदम"शरण मे हे भटक न जाये,

    तुम ही सम्हालना ये ।।ओ गणपति देवा ।।

                           //इति//




 


  

Share:

Thursday, September 1, 2022

Hartalika teej aai re, shiv ki puja rachai re

   तर्ज़:-सावन की बरसे बदरिया,मां की भीगे...

             *  हर तालिका तीज का भजन *

    हरतालिका तीज आई रे 

    शिव की पूजा रचाई रे

    पूजा रचाई शिव की पुजा रचाई रे

    चरनन लगन लगाई रे ।।शिव की पूजा ।।

(1) चुन चुन फूल फुलेरा बनायो

     आसन शिव गौरा को लगायो

     पूजा थाल सजाई रे ।। शिव की पूजा  ।।

(2) तीजे का ब्रत बहुत कठिन है 

     निराहार शिव की पूजन है

    ज्योत अखण्ड जलाई रे ।।शिव की पूजा ।।

(3) पार्वती ने यह ब्रत कीना

    अन्न ओर जल सब तज दीना

    शिव को जाए बिहाई रे ।। शिव की पूजा ।।

(4)मन चाहा घर वर मिल जाये

     धन और धान्य पति सुख पाये

    "पदम्"अशीष लुटाई रे ।।शिव की पूजा।।

    हरतालिका तीज आई रे ।

    शिव की पूजा रचाई रे ।।


                        // इति//

                        ।।  इति ।।

Share:

Sunday, July 24, 2022

Salkan pur ki maiya,tum so koi naiya


     सलकन पुर की मैया,तुम सो कोई नैया

(1)सलकनपुर को नाम बड़ो है,

     ऊंचे पर्वत भुवन बनो है,

     पीपल की ठंडी छाया ।।तुम सो कोई नैया ।।

(2) गणपति को द्वारे बेठारों,

     शिव शंकर करे ध्यान तुम्हारो

      गौरा लेत बलैया ।।तुम सो कोई नैया ।।

(3)हनुमत लाल ध्वजा फहराये

    भैरों भैरवी नाचे गाये,

    खेलत छील बिलैया ।।तुम सो कोई नया ।।

(4)मैया सबकी झोली भरती,

    मन की आशा पूरी करती,

   'पदम्' ,पड़े तोरे पैया ।।तुम सो कोई नैया ।।

                    // इति //

Share:

Thursday, December 30, 2021

Shri ram ka pahle sumran kro

            

तर्ज़:-पल पल न माने टिंकू जिया

           फिल्म:-यमला पगला दीवाना


                  *  राम जी का भजन*

     श्री राम का पहले सुमरन करो

     नए बर्ष का अभिनंदन करो

(1) तेईस गई साल चोबीस आई

    आशा उम्मीदों की सौगात लाई 

    बीरों शहीदों का चिंतन करो।।

    नए बर्ष का अभिनंदन करो।।

(2)दो दिन का वचपन है दो दिन जवानी

    हमको सिखाती है तुलसी के बानी

    साधु और संतों का वंदन करो ।

    नए बर्ष का अभिनंदन करो।।

(3)जग में नहीं कोई तेरा न मेरा

   सत्कर्म से दूर होगा अन्धेरा

   दया धर्म की ज्योत रोशन करो ।

   नए बर्ष का अभिनंदन करो।।

(4)सोमवार को यह नया बर्ष आया

    अखंड भारत का संदेश लाया

  "पदम्"कीर्तन मन समर्पण करो।

   नए बर्ष का अभिनंदन करो।।

                    //इति//

Share:

Wednesday, December 29, 2021

Tu kitni sachchi he,tu kitni bhori

 तर्ज़:-तू कितनी अच्छी है,तू कितनी भोली है

फ़िल्म:- राजा और रंक 

                                * राधे भजन*


    तू कितनी सच्ची है,तू कितनी भोरी है

    बृज की छोरी है,राधे जू, राधे जू

    राधे जू, श्यामा जू----------

    यह जो मधुवन है,प्रेम का बन्धन है

    प्रीत की डोरी है,राधे जू, राधे जू

    राधे जू, श्यामा जु---

(1)तू बृषभान की राज दुलारी

    कोई न जाने तू अवतारी, चरन कमल बलिहारी

    तू मन भावन है,मन की पावन है

    नवल किशोरी है,राधे जू, राधे जू

    राधे जू, श्यामा जु-----


 (2)तू कोमल है,तू चंचल है

     तू निर्मल है ऐसे जैसे ,जमुना जी का जल है

     हर घर आंगन में,बृज के कण कण में

     राधे गोरी है,राधे जू, राधे जू

     राधे जू, श्यामा जू--------

(3) क्या गोकुल है क्या वरसाना,

    "पदम्"यह सारा बृंदावन है,राधे का दीवाना

    तेरे चरणों की रज मिलजाए तो,

     किरपा तोरी है,राधे जू, राधे जू

     राधे जू, श्यामा जू------ 

                      //इति//

 



Share:

Thursday, December 23, 2021

Radha vallabh teri aashiqi,

तर्ज़:- जिंदगी की न टूटे लड़ी


फ़िल्म:-क्रांति

                            राधा वल्लभ भजन

     राधा वल्लभ तेरीआशिक़ी ,खुशनुमा हो गई जिंदगी

     मोह माया की दुनिया को छोड़ो

     श्याम की कीजिये वन्दगी,खुशनुमा हो गई जिंदगी ।।

(1)मेरा दिल ले लिया आपने,यह करम कर दिया आपने

    हैसियत मेरी इतनी न थी,जितना मुझको दिया आपने

    मिल गई है मुझे हर खुशी,खुशनुमा हो गई जिंदगी ।।

(2)जबसे तेरी शरण आ गया,तेरे दर ही मुकाम हो गया,

   अब किसी दर पे जाना नही,इसी दर का गुलाम हो गया

   अब न छोड़ू तेरी चाकरी,खुशनुमा हो गई जिंदगी ।।

(3)सांवली है सूरत श्याम की,मोहिनी है मूरत श्याम की,

आपकी है शरण मे "पदम्" जपु माला तेरे नाम की

छवि प्यारी लगे आपकी,खुशनुमा हो गई जिंदगी ।।

                              //इति//

      

Share:

Contributors

No din sabke sankat harna

     तर्ज़:-  बाबुल की दुआएं लेती जा -------     फिल्म,:-  नील कमल                // माता का विदाई गीत //       नो दिन सबके संकट हरना ।     ...