Friday, June 29, 2018

Durga Maharani

------ तेरे नगर कोट अस्थान " जस " ------

तेरे सलकनपुर अस्थान दुर्गा महारानी,
करे भक्तों का कल्याण दुर्गा महारानी ||

मैया बीजासेन है भोली - जहाँ भारती सबकी झोली,
निर्धन को करे धनवान || दुर्गा ||

मैया पलना कोई चढ़ाये - गोदी ललना बाँझ खिलाये,
मूह माँगा मिले वरदान || दुर्गा ||

मैया शरण तुम्हारी आऊं,
पूड़ी हलवा भोग लगाऊं,
करो कृपा दया निधान || दुर्गा || 

मैया ज्योत जले दिन राती,
मैया सोए भाग जगाती,
तेरी महिमा बड़ी महान || दुर्गा || 

मैया "पदम" तोरे जस गायें,
मैया बिगड़े काज बनाये,
तेरे सेवक हैं नादान || दुर्गा ||

-: इति :-


Share:

Jhoolegi Maiya

ऐ पंडा बाबा झूला डारे दे, चंपा चमेली की बगिया में,
झूलेगी मैया दोपहरिया में ||

रेशम की डोरी ले अइयो,
चन्दन का पलना बनवइयो,
पंडा जाए बड़ई से कहियो - मैया जी को नाम बतइयो,
जइयो जइयो नगरिया में || झूलेगी ||

गोटा दार चुनरिया लइयो,
मेरी मैया जी को उड़इयो,
पंडा जी बनिया से कहियो - मैया जी को नाम बतइयो,
जइयो जईयो बजरिया रे || झूलेगी ||

चुन चुन कलियाँ हार बनइयो,
मैया के गल में पहनइयो,
पंडा जी मालिन से कहियो - मैया जी को नाम बतइयो,
जइयो मालिन टपरिया रे || झूलेगी ||

ढोलक झांझ मृदंग बजइयो - मैया जी की भेंटें गइयो,
पंडा जाए "पदम्" से कहियो - मैया जी को नाम बतइयो,
मैया जी की दुअरिया में || झूलेगी ||

-: इति :-



Share:

Yeh Ved Puran Hamare

------ तर्ज:- यह धरती चाँद सितारे ------
------ फिल्म:- कुर्बान ------

यह वेद पुराण हमारे महिमा लिख लिख कर हारे,
सुर असुर खड़े तेरे द्वारे अंगना पवन बुहारे ||

तू जब जब मां को पुकारे - मां बिगड़े काज संवारे,
मैया की राह निहारे - मेरे नैना सांझ सवाँरे,
मुझे सेवा में लगा ले - मुझे गोदी में बिठा ले,
मेरी माता रानिय - शरण में ले लिया ||

पीले छबाले शेर पर हो कर सवार आओ मां,
कब से तुम्हें बुला रहे अब तो दर्श दिखाओ मां,
दरबार है लगा हुआ गुणगान तेरे गा रहे,
तेरे अनेकों नाम के जयकारे भी लगा रहे,
तू ही सारे दुःख टाले, तू ही मारे तू ही पाले,
मेरी माता रानिय - शरण में ले लिया ||

ऊंची है पहाड़ियां, जिन पर तेरे भुवन बने,
शीतल पवन झकोरती ,जंगल भी है घने घने,
मैया बसी हो जहां मुझसे बहुत ही दूर है,
अब तो तुम्हारे द्वार में जाना मुझे जरूर है,
यह दूरियां हटा ले, मुझे दर पर बुला ले,
मेरी माता रानिय - शरण में ले लिया ||



   
Share:

Thursday, June 28, 2018

Sada Maa Ko Bhajana

------ तर्ज: - परदेसी परदेसी जाना नहीं ------
------ फिल्म:- राजा हिन्दुस्तानी ------

आएगी आएगी माता मेरी चुनर ओढ़ के - 2
आएगी माता मेरी ज्योति जगाना,
सदा मां को भजना, कभी भूल ना जाना || आयेगी ||

सुख में दुख में मैया को जो याद करे,
बेटा बनकर मां से जो फरियाद करे,
मैया के द्वारे से झोली भर जाए,
इनकी चौखट से तकदीर संवर जाए,
आएगी मेरी माता - गुणगान गाना || सदा ||

मां दुर्गे मां अंबे मां कल्याणी है,
मां गौरा मां लक्ष्मी मां ब्रह्माणी है,
यह जग जननी मंगल करनी माता है,
यह दुख हरनी सबकी भाग्य विधाता है,
आएगी मेरी माता - मन में बसाना,
सदा मां को भजना - कभी भूल ना जाना ||

अत्याचार मिटाने मां अवतार धरे,
काली बनके दुष्टों का संहार करे,
रुप अनेक हैं मां के भोली भाली है,
माँ जगदम्बे पीले शेरावाली है,
आएगी मेरी माता - नाता निभाना,
सदा माँ को भजना - कभी भूल न जाना ||

माता ने भक्तों की लाज बचायी है,
माँ को याद करो, माँ दौड़ी आई है,
आजाओ माँ "पदम्" ने टेर लगायी है,
मेरे कारण माँ क्यों देर लगायी है,
आएगी मेरी माता - विनती सुनाना,
सदा माँ को भजना - कभी भूल न जाना ||

-: इति :-


Share:

Laal Laal Hai Chola

लाल लाल है चोला, तेरा करती मां कल्याण है,
लाल लाल बिंदिया है, लाल चुनरिया है,
मैया की क्या शान है || लाल लाल ||

पैरों में मां के लाल महावर, हाथों में मेहंदी रची लाल है,
मैया जो नाचे पैंजनिया बाजे, मैया की देखो छविलाल है ||
लाल तेरे आए हैं फरियाद लाए हैं,
मैया की लालिमा से लाल हो गए,
लाल बोले जयकारे भर दो मां भंडारे,
दाती के दर पे निहाल हो गए,
पर्वत पे मां का भुवन रमणीक स्थान है ||

ऊंचे शिखर को लहरा के चूमे मैया का झंडा भी लाल है,
माता विधाता पहने गले में फूलों की माला भी लाल लाल है ||
माता मेरी भोली है लाल लाल रोली है,
मस्तक पे टीका भी लाल लाल है,
लाल चूड़ी पहने हैं लाल गहने है,
नैनों की ज्वाला भी लाल लाल है,
मां तेरी महिमा बड़ी -  बेटों पर कुर्बान है ||

दुर्गा भवानी हो तुम ही अंबे हो महाकाली हो,
आशापुरा हो मां, तुम ही मैहर की मेहरा वाली हो,
लाखों सवाली आते हैं, खाली ना कोई जाते हैं,
राजा हो या कि रंक हो, मन की मुराद पाते हैं,
आजा गुणगान गाले - मां को "पदम" मना ले,
मेरी माता रानी है - शरण में ले लिया ||

-: इति :-


Share:

Hum To Thehre Fariyadi

 हम तो ठहरे फरियादी मां के दर पर जाएंगे,
झोलियाँ मुरादों की भर के लौट आएंगे || हम ||

नेकी और कमाई की रूखी सूखी खाते हैं,
भोग हलवा छोले का मां को क्या लगाएंगे || हम ||

मां तेरे भगत बड़े अजीब होते हैं- थोड़े अमीर ज्यादातर गरीब होते हैं,
जिन पर मैया की नजर होती है - वह बड़े खुशनसीब होते हैं,
देवी मां चरणों में गंगा जमुना बहती है
हम तो लाये एक गडुआ मां को क्या नहलायेंगे || हम ||

मेरी मां हम तुमसे प्यार करते हैं, अपना सब कुछ तुम्हीं पर निसार करते हैं
मां के दरबार में आए हैं, मांगने के लिए उनके चरणों को नमन बार-बार करते हैं
द्वार द्वार जाके हुए तार-तार दामन के
गोटा जड़ी लाल चुनरी मां को क्या उड़ाएंगे || हम ||

हम सवाली की झोली यहां भर जाती है, उनके दरबार में तक़दीर संवर जाती है
समझ में कुछ नहीं आता, यह नजर कैसी है, जिधर भी देखता हूं माँ ही नजर आती है
यूं "पदम" के जीवन में आज तक अंधेरा है,
 ज्वाला मां के भुवना में, ज्योत क्या जलाएंगे || हम ||

-: इति :-


Share:

Man Mera Kehta Hai

 ------तर्ज:- दिल मेरा हर बार यह सुनने को ------
------ फिल्म:- कहो न प्यार है ------

मन मेरा कहता है इक सांचा दरबार है,
मैया का द्वार है - 2 ||

माता अगर होती नहीं फिर बोलो क्या होता,
दुनिया में जीव कोई कभी न जन्मा होता,
मां की चरण वंदना करो मां का बड़ा उपकार है || मैया ||

मां दुर्गे के हाथों में सब भक्तों का खाता,
जो जैसा करता है वैसा ही फल पाता,
सुर नर मुनि ध्यावे तुम्हें करते सदा जयकार हैं || मैया ||

एक घड़ी आधी घड़ी मां की सेवा कर लो,
आओ "पदम" इस दर से खाली झोली भर लो,
होता नहीं खाली कभी मेरी माई का भंडार है || मैया ||

-: इति :-


Share:

नज़म

अकबर था एक राजा - था मन  का बड़ा जिद्दी,
ज्वाला ने अपनी शक्ति - राजा को जब दिखा दी ||

राजा ने मन में ठानी - दरबार में जाऊंगा
ध्यानु से भी कुछ अच्छा - प्रसाद चढ़ाऊंगा ||

 लेकर वह सवा मन का - सोने का छतर लाया
नंगे ही पांव चलकर - मैया के द्वार आया ||

सोने का छतर मेरा - स्वीकार करेगी मां
ध्यानु की तरह मुझ पर - उपकार करेगी मां ||

 मैया बड़ी दयालु - राजा ने मन में सोचा
सबसे बड़ा भगत हूं - उसको घमंड आया ||

 मैया के शीश पर वह - जब छतर को चढ़ाने
तैयार हुआ राजा - मैया को जब मनाने ||

अकबर की यह नादानी - सब देख रही मैया
करना है कुछ करिश्मा - यह सोच रही मैया ||

सोने का छतर उसका - ठुकरा दिया था मां ने
अंजाम घमंडी को - दिखला दिया था मां ने ||

मां ज्वाला की ज्वाला से - सोना भी हुआ काला
शक्ति है मां में कितनी - दुनिया को दिखा डाला ||

भक्तों से "पदम्" जो भी - मैया को जानते हैं 
हिंदू हो या मुसलमान - मैया को मानते हैं ||

-: इति :-


Share:

Nau Devi Ki Mahima Gaaye

नौ देवी की महिमा गाये हम बालक अज्ञानी,
माँ दुर्गा की करें वंदना, जय जय मात भवानी 

न हम ज्ञानी न हम ध्यानी, पूजा पाठ न जाने,
मैया जी से करें प्रार्थना, माँ का दर्शन पाने ||

मूरख धयान धरे चरणों में, लोक लाज रख लेना,
बेटों से जो भूल चूक हो, माई क्षमा कर देना ||

प्रथम सुमरूं शैलपुत्री को, आओ सिंह सवारी,
भक्त तुम्हारे द्वार खड़े हैं, देखे राह तुम्हारी ||

ब्रम्हचारिणी को दूजे सुमरूं, आदि शक्ति भवानी,
हमे शरण में ले लो माता, दया करो कल्याणी ||

मात चंद्रघंटा को तीजे सुमर, सुर बलि जाऊं,
बिगड़े काज सवारो माता, दर्श की आस लगाऊं ||

चौथे सुमरूं कुष्मांडा को, चूनर लाल उड़ाऊँ,
लाल ही चूड़ी लाल ही बिंदिया, मेहंदी लाल लगाऊँ ||

पंचम सुमरूं स्कंदमाता जन जन की हितकारी,
अष्टभुजी है रूप तुम्हारा, महिमा अजब तुम्हारी ||

छटवीं सुमरूं कात्यायनी, वरदानी कहलाये,
भक्ति में शक्ति दो माता, जनम सफल हो जाए ||

सातवीं देवी कालरात्री को सुमर सुमर डर लागे,
माँ बैठी शमशान में जाके, काल भी डर भागे ||

महागौरी को अष्टम सुमरूं, खांडा खप्पर धारे,
मुण्ड माल गर्दन में डारे, दानव दल संघारे ||

नवमी दुर्गा सिद्धिदात्री, सुमर सुमर जस गाऊँ
"पदम्" के कारज सिद्धि करो माँ भव सागर तर जाऊं ||

-: इति :-


Share:

Pooja Ki Ritu Aai

------ तर्ज:- वफ़ा न रास आई ------
------ फिल्म:- बेवफा सनम ------

पूजा की ऋतू आई, माँ काली महामाई,
मैया सुनलो पुकार, आजा सिंह पे सवार,
नौ दिन की ज्योत जलाई || पूजा ||

मुण्डों की पहन लई माला, जब रक्त बीज से युद्ध किया,
चरणों में लेटे शिव शंकर, माँ ने बढ़ता पग रोक लिया,
देवों ने लगन लगाई || पूजा || माँ की महिमा अपार, कोई पाया नहीं पार 

एक राम का मंदिर बना नहीं, हर राम भक्त शर्मिंदा है,
हर साल दशहरा मानते रहे , यह रावण फिर भी जिंदा है,
करो कोई जतन - हम आये शरण,
माँ किसलिए देर लगायी || पूजा ||

जब जब धरती पर पाप बढ़ा, तब तब माँ ने अवतार लिया,
माँ ने रणचंडी रूप धरा, पापी दुष्टों को मार दिया,
माँ की पूजा करो - ध्यान "पदम्" धरो,
माँ ने बिगड़ी बात बनाई || पूजा ||

-: इति :-


Share:

Laal Dhwaja Fehraye Ho

------ तर्ज:- मोसे चढो नहीं जाये रे मैया तोरी ------

लाल ध्वजा फहराये हो मैया तोरी ऊंची पहाड़िया

लाल ह चूड़ी लाल ही बिंदिया,
लाल वरण पे लाल चुनरिया,
लाल ही गोटा जड़ाये हौ || मैया || 

लोंग इलायची के बीड़ा लगाये,
चंपा चमेली के हार बनाये,
लाल अनार चढ़ाये हो || मैया ||

लाल गुलाल से लाल भये हैं,
लाल तुम्हारे निहाल भये हैं,
मैया के रंग रंग आये हो || मैया ||

ज्योत करे जग में उजियारो,
एक सांचा है द्वार तुम्हारो,
सांच को आंच न आये हो || मैया ||

माँ जग जननी माँ कल्याणी,
आदि शक्ति आदि भवानी,
महिमा लिखी नहीं जाए हो || मैया ||

"पदम्" सुमर माँ तोरे जस गायें,
चरणों में तोरे ध्यान लगायें,
गीत सुमन बरसाए हो || मैया ||

-: इति :-


Share:

Tuesday, June 26, 2018

Jyot Jale Re Din Raat

ज्योत जले रे दिन रात,
माई की मडूलिया में ||

जग जननी दुःख हरनी माता,
सब की सुने फरियाद || माई ||

जूही चंपा मोगरा फूले,
चमेली खिले आधी रात || माई ||

धूप कपूर की आरती होवे,
हलुआ को चढ़े प्रसाद || माई ||

हनुमत नाचे भैरो नाचे,
मैया जी के साथ || माई ||

माई के "पदम्" गुणगान करो रे,
पूरी होगी मुराद || माई ||

-: इति :-


Share:

Sunday, June 24, 2018

Cham Cham Baaje Paijaniya

छम छम बाजे पैंजनिया हो मैया तोरी |

आप भी नाचे संग भैरो को नचाये,
ओढ़ के लाल चुनरिया || हो मैया ||

आम की डारी कोयल बोले,
बन बन कूदे हिरनिया || हो मैया ||

जग को नाचावन बाली नाचे,
पहन कम्मर करधनिया || हो मैया ||

फुलवा लइयो, नदन बन जइयो,
हार बनइयो मालनिया || हो मैया ||

"पदम्" सुमर मैया को निस दिन,
ध्यान धरे सारी दुनिया || हो मैया ||

-: इति :-


Share:

Laal Chola

लाल चोला, हो मेरी माई को चढ़ा दे पंडा लाल चोला |

पंडा बाबा जइयो मनिहारी की दुकान,
लाल हरी पीली चूड़ी लइयो आलिशान,
मैया देगी वरदान || लाल चोला ||

पंडा बाबा जइयो तुम बजाज की दुकान,
गोटा जड़ी लाल चुनरी लइयो आलिशान,
मैया देगी वरदान || लाल चोला ||

पंडा बाबा जइयो तुम सुनार की दुकान,
मीना जड़े लाल चूड़ा लइयो आलिशान,
मैया देगी वरदान || लाल चोला ||

पंडा बाबा जइयो मनिहारी की दुकान,
टीकी बिंदी लाल मेहँदी लइयो आलिशान,
मैया देगी वरदान || लाल चोला ||

पंडा बाबा जइयो मैया जी के स्थान,
"पदम्" करे मैया जी के गुणगान,
मैया देगी वरदान || लाल चोला ||

-: इति :-


Share:

Maiya Ke Dar Daud Aaya

------ तर्ज:- मैं निकला गड्डी लेके ------
------ फिल्म:- ग़दर ------

धन माया, महल अटारी, सखा बंधु, सूत नारी,
सब छोड़ आया, मैया के दर दौड़ आया ||

माँ को शेरावाली कहते हैं,
कोई माता काली कहते हैं,
माँ के द्वारे ज्योत अखंड जले,
सब ज्योतावाली कहेते हैं,
मैया तेरा नाम जपना, भक्तों में अपना नाम मैं जोड़ आया || मैया ||

हर घर घर में हर मंदिर में,
मेला लगता नौ रातों में,
माँ के नौ दिन उपवास करे,
मैं रोज़ गया जगरातों में,
मैया बैठी ओढ़े चुनरी, मेरी रातें कब गुज़री कब भोर आया || मैया ||

सुर नर मुनि माँ को ध्याते हैं,
ब्रह्मा विष्णु गुण गाते हैं,
शिव शंकर माँ का ध्यान धरे,
यह वेद "पदम्" बतलाते हैं,
माँ की चौखट मेरी मंजिल लाया था एक नारियल वहीँ फोड़ आया || मैया ||

-: इति :-


Share:

Nau Din Aur Nau Raaton Me

------ तर्ज:- चूड़ी जो खनकी हाथों में ------
------ फिल्म:- प्यार कोई खेल नहीं ------

मोर नचत है बागों में, नौ दिन और नौ रातों में,

काली कोयलिया कूकन लगी मैया के जगरातों में ||


लाल तेरे द्वार आये, लाल चूनर पंडा लाये,
लाल लाल चूड़ी लाये, लाल लाल झंडा लाये,
मेहँदी लगा दो माँ के हाथों में || नौ दिन ||

मैया शेर पे आएगी बिगड़ी बात बनाएगी,
हम झूमेंगे नाचेंगे जैसा माई नचाएगी,
डोरी है माँ के हाथों में || नौ दिन ||

जग मग ज्योत जली, मैया के दर भीड़ लगी,
माँ के दर्शन करने से "पदम्" सोयी तकदीर जगी,
माँ को भजो हर साँसों में || नौ दिन ||

-: इति :-


Share:

Jana Hai Maa Ki Duariya

------ तर्ज:- ऐसी दोपहरी न जाऊं रे डोली पिछवाड़े ------

जाना है माँ की दुअरिया मैहर की नगरिया |

इस दर से बिन मांगे मिलता,
माँ के बिना पत्ता नहीं हिलता,
मेरी भी ले लो खबरिया || मैहर ||

निर्धन को धन देती मैया,
निर्बल को बल देती मैया,
बैठी है ऊंची अटरिया || मैहर ||

दीन दुखी से प्यार करे माँ,
पंचरंगी श्रृंगार करे माँ,
पंचरंग ओढ़े चुनरिया || मैहर ||

हनुमत लाल ध्वजा लहराए,
भूत चुड़ेल निकट नहीं आये,
अंगना नाचे लांगुरिया || मैहर ||

यह जीवन बुल बुला है पानी,
"पदम्" सुमर जगदम्ब भवानी,
बीत न जाए उमरिया || मैहर ||

-: इति :-


Share:

Contributors

Follow by Email