Saturday, February 24, 2018

Bhole Vardaaniya Darsh Do

तर्ज:- गोरी है कलियाँ, तू लादे मुझे हरी हरी
फिल्म:- आज का अर्जुन

भोले वर दानियाँ दर्श दो ओघड़दानियाँ,
कबसे खड़े हैं तोरे अंगना,
नैना रे सावन भादो से बरसे आजारे तेरे दर्श को तरसे ||

भोले बाबा आके ज़रा डमरू बजादो,
भक्तजनों के मन को धीर बंधा दो,
दया हो तुम्हारी मिट जाए हमारी,
जनम जनम की परेशानियां || भोले ||

डूब न जाए कहीं भंवर में नैया,
भव सागर से तुम ही पार करैया,
डगमग डोले खाए हिचकोले,
करदो जी करदो मैहर बानियाँ || भोले ||

"पदम्" न जाने तेरी वंदना पूजन,
करते रहेंगे शिव नाम का सुमिरन,
तेरा तुझको करते हैं अर्पण,
कैसी हमारी नादानियां || भोले ||

-: इति :- 


Share:

Ashtami Aayi (जन्माष्टमी भजन)

तर्ज:- आने से उसके आये बहार
फिल्म:- जीने की राह

|| जन्माष्टमी ||

अष्टमी आई किये सोलह सिंगार,
गोकुल में छाई है खुशियाँ अपार,
जन्में हैं नंदलाला चलो दर्शन को ||

है ख़ुशी का अवसर नन्द घर लाल पैदा हुआ है,
कंस पापी तेरे वास्ते काल पैदा हुआ है,
रूप अति सुन्दर है पर है ज़रा काला || चलो ||

भादो का महिना, अष्टमी का यह दिन है सुहाना,
रात भी है आधी, होगा अवतार खुश है ज़माना,
भक्तों पर संकट में आया है रखवाला || चलो ||

हो सफल यह जीवन उनके चरणों में डेरा लगाले,
इस जहाँ की नैया के खिवैया "पदम्" मुरली वाले,
लाज मेरी रख लेना गिरधर गोपाला || चलो ||

-: इति :- 


Share:

Tu Meri Maata Beta Mai Tera

तर्ज:- मैं तेरी दुश्मन दुश्मन तू मेरा
फिल्म:- नगीना 

तू मेरी माता बेटा मैं तेरा, तू ज्योति मैं अँधेरा -2
आ जाओ माँ अब न करियो देर लगाई टेर ||

क्या लाया हूँ क्या ले जाऊँ, द्वार पे तेरे बलि बलि जाऊं,
करलूं पूजा करलूं भक्ति, ऐसी मुझमें कहाँ है शक्ति,
मैंने तो डाला चरणों में डेरा || तू ज्योति ||

निर्मल मन है, कोमल काया, मुश्किल से यह नर तन पाया,
क्या क्या वादे करके आया, मूरख तूने जनम गंवाया,
यह दुनिया तो है रैन बसेरा || तू ज्योति ||

माँ दुर्गे की माला जपले, माँ की चौखट पर सर रखले,
अगर जो माँ की आँख खुलेगी, "पदम्" की झोली भरी मिलेगी,
ऐसा मिलेगा न मौका सुनहरा || तू ज्योति ||

-: इति :- 


Share:

Chal Chal Chal Tu Shivalay Me

तर्ज:- ओ साथी चल चल चल तू
फिल्म:- सलाखें

ओ साथी चल चल चल तू शिवालय में,
जहाँ हरी धुन गायें सभी इक लय में ||

शिव के दर पे शीश झुकाले,
अपने मन की प्यास बुझाले,
ऐसे हैं वह ओघड़ दानी, भक्त कहें वो हैं वरदानी,
भोले आन विराजो मेरे ह्रदय में || चल चल ||

गंगा धारी डमरू वाले,
सब देवों में भोले भाले,
गांजे की जब चिलम चढ़ाये गौरा से भंगिया घुटवाये,
बाबा अलख जगाये हिमालय में || चल चल ||

श्रद्धा के कुछ फूल हैं अर्पण,
नाथ "पदम्" के काटो बंधन,
ऋषि मुनि तेरे गुण गायें, मानव दानव तुम्हें मनाएं,
गूंजे अम्बर भोले की जय जय में || चल चल ||

-: इति :-


Share:

Friday, February 23, 2018

Bhav Saagar Se Taarna Bhole

तर्ज:- क्या करते थे साजना
फिल्म :- लाल दुपट्टा मलमल का 

भव सागर से तारना भोले दयालु शंकर,
हम तो तुम्हारे द्वार आकर विनती सुनाया करते हैं ||

शिव शंकर हैं भोला भाला, इनका है हर ढंग निराला,
ओघड़ दानी हैं वरदानी, पहने गले में नागों की माला,
गाते हैं हम शिव के भजन, ले ली जिए अपनी शरण,
यूं गुणगान गाया करते हैं || विनती ||

जिसने उनका ध्यान लगाया, मूंह माँगा वरदान है पाया,
रावण को लंका दे डाली, भस्मासुर ने कंगन पाया,
उनकी दया से पापी तरे भक्तों की वह झोली भरे,
वह बिगड़ी बनाया करते हैं || विनती ||

मस्तक पर त्रिपुंड है प्यारा, शीश पे बहती गंगा धारा,
अंग भबूती, तन मृगछाला, चन्द्र मुकुट करता उजियारा,
कैलाश पर धूनी लगे, वर्षो वर्ष अलख जगे,
वह डमरू बजाया करते हैं || विनती ||

रिमझिम रिमझिम सावन बरसे, दर्शन  को यह नैना तरसे,
आस "पदम्" की राह निहारे करदो थोड़ी कृपा नज़र से,
आये हैं हम दरबार में, अपना नहीं संसार में,
बस तुमको जपा करते हैं || विनती ||

-: इति :-


Share:

Wednesday, February 21, 2018

Mere Makhan Ki Gaagar

तर्ज :- मेरे घुंघरू के बोल अनमोल
फिल्म:- पुतली बाई

मेरी माखन की गागर न ढोल छलिया,
वर्ना ले लूंगी मैं इसका मोल छलिया ||


बरसाने की हूँ मैं भोली गुजरिया,
गोकुल का तू तो ग्वाल रे,
बेदर्दी बैरन बजाये बाँसुरिया,
जी का न जाने तू हाल रे,
तेरी मुरली पे जिया जाए डोल छलिया || वर्ना ||

राधा ने तन मन की सुध बुध बिसारी,
जुल्मी से लागे हैं नैन रे,
यादों में प्रीतम के दिन गिन गुज़ारे,
सपनों में काटी है रैन रे,
कभी बिरहन के दिल को टटोल छलिया || वर्ना ||

द्वारे पे आया है आशा लगाए,
लज्जा तुम्हारे है हाथ रे,
भक्तों को चरणों में इतनी जगह दो,
जितनी "पदम्" को मिली नाथ रे,
मेरे ह्रदय में प्रेम रस घोल छलिया || वर्ना ||

-: इति :-



Share:

Hum To Aaye Gajanand Ke Dwar

तर्ज:- हम न जानी न जानी तुम्हार,

हम तो आये गजानंद के द्वार बाबा,
मिले हमको भी थोड़ा सा प्यार बाबा ||

गौरा ने गणपति को नाजों से पाला,
शिवजी ने गुस्से में सर काट डाला,
माँ की आज्ञा रखी सिरो धार बाबा ||

अलबेले मूषक पे करते सवारी,
देवों ने जानी न लीला तुम्हारी,
ज्ञान बुद्धि में सब गए हार बाबा ||

विघ्न विनाशक हैं गणराज देवा,
कहलायें देवों के सरताज देवा,
रिद्धि सिद्धि भरें भण्डार बाबा ||

"पदम्" ने पूजा की थाली सजाई,
श्रद्धा सबूरी की माला बनायीं,
लाये मोदक के लड्डू चार बाबा ||

-: इति :-


Share:

Vo Hi Tera Beda Lagaenge Paar

तर्ज:- एक दो तीन चार पांच छह
फिल्म :- तेजाब

श्रावण सोमवार, न कर विचार,
चलो मेला लगा, भोले के द्वार,
आओ करें शिव की जय कार,
वो ही तेरा बेड़ा लगायेंगे पार ||

अच्छे बुरे को पहचानिए,
जो सांचा लगे उसे मानिये,
इनके खजाने में कौड़ी नहीं,
फिर भी बड़े हैं यह वर दानीये,
भक्तों से करते हैं प्यार || वो ही ||

पर्वत पे आसन लगाए हुए,
अंगों में भस्मी रमाये हुये,
ऐसा लगे है बैठे हैं शिव,
गांजे की दम को लगाए हुए,
सर से बहे गंगा की धार || वो ही ||

डमरू डमाडम बजायेंगे वो,
भक्तों के संकट हटायेंगे वो,
बैठे रहो डेरा डाले "पदम्",
कभी तो गले से लगाएंगे वो,
पापी मन हिम्मत न हार || वो ही ||

-: इति :-


Share:

Saturday, February 17, 2018

Mori Pat Rakh Layiyo Cheend Ke Dada

तर्ज :- तोरे मड़ पे बदरा हो रहे

मोरी पत रख लइयो, छींद के दादा,
हम तुमरे द्वार पे आये हो, देवा दया कर दईयो,
मोरी पत रख लइयो, छींद के दादा ||

संकट मोचन नाम तुम्हारो,
बजरंगबलि कहाए हो, देवा दया कर दईयो || मोरी ||

शिखर पे सोने के कलश धरे हैं,
लाल ध्वजा लहराए हो, देवा दया कर दईयो || मोरी ||

जो कोई पड़े हनुमान चालीसा,
भूत प्रेत भग जाए हो, देवा दया कर दियो || मोरी ||

राम के संकट तुमने टारे,
सीता की सुध लाये हो, देवा दया कर दईयो || मोरी ||

अखंड रामायण द्वार पे हो रई,
सुनत पाप कट जाए हो, देवा दया कर दईयो || मोरी ||

"पदम्" को दरस की आस लगी है,
नारियल भेंट चढ़ाये हो, देवा दया कर दईयो || मोरी ||

-: इति :-


Share:

Kaya ki Choonar Maili Ho Gayi

तर्ज :- राम तेरी गंगा मैली हो गयी
फिल्म :- राम तेरी गंगा मैली

शिव की शरण में आया, विनती करूँ मैं रोते रोते,
काया की चूनर मैली हो गयी,
बीती रे उमरिया, धोते धोते ||

काम क्रोध की कीचड़ लागी, मोह माया की कजली,
नेकी से मूंह फेर के, मैंने वदी से झोली भरली,
कुछ समझ न आये, कोई राह न दिखाए,
जिसने दिया यह जीवन, उसके भजन न गाये,
जनम गंवाया, मैंने काम के संग सोते सोते || काया की ||

बाबुल के घर से जब निकली ओढ़ के कोरी चुनरिया,
माया के जंजाल में फंसकर, बीती जाये उमरिया,
मैं न जानू कित जाऊं, किसे दुखड़ा सुनाऊँ,
मेरे भोले शिव की आगे कैसे मुखड़ा दिखाऊँ,
अब तो कमरिया टूटी, ज़िन्दगी का बोझ ढोते ढोते || काया की ||

सुर नर ऋषि मुनि न जाने महिमा शिव की न्यारी,
मैं नादान "पदम्" अज्ञानी, तुम भोले भंडारी,
मुझे अपना बनालो, मेरी बिगड़ी बनादो,
मेरी नैया के खिवैया, बेड़ा पार लगादो,
लख चौरासी खाए भव सागर में गोते  || काया की ||

-:इति:-


Share:

Radha Sakhiyon Se Boli

तर्ज:- मेरा प्यार भी तू है ये बहार भी तू है
फिल्म:- साथी 1968

  राधा सखियों से बोली, चलो लेकर के टोली,
बरसाने में खेलेंगे होली,
कान्हा छलिया से, मन बसिया से || राधा ||

लाल गुलाल से मूंह रंग देंगे, रंग बिरंगे रंग डालेंगे,
आज कन्हैया को हम मिलकर अपने रंग में रंग डालेंगे 
झूमके संग नाचेंगे || राधा ||

जब सब सखियाँ घर से निकली, राह में मिल गए मदन मुरारी,
देख के झुर मुट में राधा को, तान ली मोहन ने पिचकारी,
राधा को रंग डारी || राधा ||

दोनों तरफ से रंग है बरसा, लाल गुलाल गगन में छाया,
ऐसे रंगे हैं "पदम्" किसी को चेहरा भी पहचान न आया,
मस्त महीना आया || राधा ||

-:इति:-


Share:

Pehle Sumar Leu Ganpati Ko

तर्ज :- अमुआ की डारि झूला डार दये मैया के ( जस )

माँ गौरा के लाल पहले सुमर लेऊं गणपति को,
दाता दीना दयाल पहले सुमर लेऊं गणपति को ||

गौरा की अंखियों के तारे,
शिव शंकर के राज दुलारे,
भक्तन के प्रतिपाल ||

रिद्धि और सिद्धि के दाता,
कहलाते हैं बुद्धि विधाता,
करते माला माल ||

मूषे पे असवार चलत है,
मोदक लड्डू चार चड़त है,
हो गए भगत निहाल ||

"पदम्" तुम्हारो ध्यान लगाये,
करे आरती मंगल गायें,
दर्शन को है सवाल ||

-:इति:-


Share:

Thursday, February 15, 2018

O Bhole Door Karo Dukhda

तर्ज :- मुखड़ा चाँद का टुकड़ा
फिल्म :- कुदरत का क़ानून

ओ भोले दूर करो दुखड़ा
बैठे दर पे डेरा डाले,
उनकी शरण में आये कितने सवाली यहाँ,
निर्धन और धन वाले ||

सबसे हो भोले भाले, सबसे दयाल हो,
सबसे धनि हो तुम्ही, सबसे कंगाल हो,
बिच्छु सांप हैं जिनके गहने, तन पे एक लंगुटिया पहने,
जिसने जो मांगा, उसने वरदान पाया,
ऐसे दानी हैं शिव मतवाले || ओ भोले ||

अंग भबुती मली, डमरू बजाये हो,
शीश चन्द्रमा का मुकुट सजाये हो,
तुम हो भोले गंगा धारी, करते नंदी की असवारी,
काशीपति मरघट में अलख जगाये,
पिए भांग के भर भर प्याले  || ओ भोले ||

आओ भोलेनाथ कहाँ धूनी रमाई है,
बीच भंवर में मेरी नाव डगमगाई है,
तुम हो भोले ओघड़दानी, मैं हूँ दास "पदम्" अज्ञानी,
भक्तों के तुम रखवाले  || ओ भोले ||

-:इति:-


Share:

Jamuna Me Nahave Sakhiyan Kare Shor

तर्ज :- सावन का महिना पवन करे शोर
फिल्म:- मिलन 1967

जमुना में नहावें, सखियाँ करें शोर,
चीर चुराके कदम पे चढ़ गयो छलिया नन्द किशोर ||

हाय ज़ुल्म ढाये कृष्ण कन्हैया,
राधा बेचारी कान्हा पड़े तोरे पैयां,
या नटखट के आगे चले न कोई जोर || चीर ||

कान्हा करे क्या जाने हमको इशारा,
जल से हो न्यारी दूँगा चीर तुम्हारा,
मुरली मधुर बजाये वह कान्हा माखन चोर || चीर ||

जब भक्तों ने तुमको पुकारा,
तुमने दिया आके उनको सहारा,
दया नज़र कब होगी ऐ कान्हा "पदम्" की ओर || चीर ||

-:इति:-


Share:

Wednesday, February 14, 2018

Tu Deepak Mai Andhera

तर्ज :- मैं तेरी दुश्मन दुश्मन तू मेरा 
फिल्म :- नगीना 

मैं तेरा सेवक दाता तू मेरा
तू दीपक मैं अँधेरा - 2

क्या लाया हूँ क्या ले जाऊं, द्वार पे तेरे बलि बलि जाऊं,
मैंने तो डाला चरणों में डेरा || तू दीपक ||

निर्मल मन है कोमल काया, मुश्किल से यह नर तन पाया,
क्या क्या वादे करके आया, मूरख तूने जनम गंवाया,
यह तो दुनिया रैन बसेरा || तू दीपक ||

शिव की महिमा सब से न्यारी, अपनी जटों में गंग उतारी,
भांग धतुरा पीने वाला, हंस कर पी गया विष का प्याला,
देवों ने गाया गुणगान तेरा || तू दीपक ||

ॐ नाम की माला जपले, शिव के चौखट पर सर रख ले,
अगर जो शिव की आँख खुलेगी, "पदम्" की झोली भरी मिलेगी,
ऐसा मिलेगा न मौका सुनहरा || तू दीपक ||

-: इति :-

 

Share:

Wahan Ek Chaliya Muraliya Bajaye

तर्ज:- तुम्हें और क्या दूं मैं दिल क सिवाए
फिल्म:- आई मिलन की बेला

नहीं जाऊं पनघट पे जियरा डराए,
वहां एक छलिया मुरलिया बजाये ||

सखी तू क्या जाने, वह ऐसा है छलिया,
अकेली मुझे देख रोके डगरिया,
मेरी भोली नज़रों से नजरिया लड़ाए || वहां ||

शिकायत करूंगी मैं मैया से जाके,
तेरे कान्हा छेड़े है, पनघट पे आके,
गिराए गगरिया खड़ा मुस्कुराए || वहां ||

कन्हैया तुम्हारी निराली है माया,
पड़ा कष्ट भक्तों पे, तुमने हटाया,
"पदम्" तेरे चरणों में तेरे गीत गाये || वहां ||

-: इति :-


Share:

Shiv Ki Maya Ka Paar Nahi

तर्ज :- मुझे पीने का शौक नहीं
फिल्म:- कुली

शिव की माया का पार नहीं कोई पाया ज़माने में,
तीनो लोकों के हैं स्वामी, जा बसे हैं वीराने में || शिव ||

तन बदन पर मले भस्मी, एक पहने हैं मृग छाला,
भांग गांजे की बात है क्या, ज़हर तक शिव ने पी डाला,
बैठे हैं वह हिमालय पर, मस्त डमरू बजाने में || शिव ||

बहे गंगा जटाओं में, नाग गर्दन में हैं काले,
रहे त्रिशूल बाहों में, बैठे नंदी पे मतवाले,
सुर ऋषि नर मुनि हैं मगन, उनके गुणगान गाने में || शिव ||

पास कुछ भी नहीं मेरे, क्या करूं मैं तुम्हें अर्पण,
यह समझ में न आये "पदम्" किस तरह से मिले दर्शन,
एक दया की नज़र करदो क्या कमी है खजाने में || शिव ||

-: इति :-



Share:

Murli Bajayi Kanhaiya

तर्ज :- मिल गए नैना से नैना हो क्या बात
फिल्म:- दो रास्ते 1970

मुरली बजायी कन्हाई, होय क्या बात हो गयी,
कैसे आऊँ सांवरिया, आधी रात हो गयी,
तू हरजाई न आई, होय क्या बात हो गयी,
आजा आजा गुजरिया, आधी रात हो गयी ||

सुन अलबेली तू आना अकेली, न लाना सहेली नवेली,
किसी तरह ओ राधा तुझे आना है, पानी भरने का अच्छा बहाना है,
आई चौरा चोरी हो गौरी, होय क्या बात हो गयी,
तूने मुरली बजायी, तेरे साथ हो गयी ||

तू है दीवाना मुझे न सताना, है बैरी ज़माना ओ कान्हा,
बड़ा झूठा है तू, बड़ा छलिया है, जिया लुटे यह कैसी मुरलिया है,
विरहा की मारी मैं हारी होय क्या बात हो गयी,
अब न रोको डगरिया, आधी रात हो गयी ||

गौरी बृज बाला वो श्याम है काला, क्या प्यार है आला निराला,
राधे मोहन की प्रेम कहानी है, मिले दर्शन "पदम्" ने यह ठानी है,
लीला तुम्हारी है न्यारी, होय क्या बात हो गयी,
तेरी कृपा जो हम पे दीनानाथ हो गयी ||

-: इति :-


Share:

Mere Hriday Viraajo Ganraaj Re

तर्ज :- आजा तुझको पुकारे मेरे गीत रे -2
फिल्म :- नीलकमल 

मेरे ह्रदय विराजो गणराज रे -2,
मेरी विपता टारो आज रे || मेरे ||

जानू न कैसे तेरी वंदना हो,
कैसे सफल मेरी आराधना हो ,
मैं नादान दयालु तुम हो आन सवारो काज रे || मेरे ||

आप कहाते रिद्धि सिद्धि के दाता,
भक्त जनों क भाग्य विधाता,
तीन लोक के सब देवों में तुम ही हो सरताज रे || मेरे ||

मूषे पे रहती है तेरी सवारी,
कोई न जाने है माया तुम्हारी,
आज सभा के बीच प्रभुजी राखो "पदम्" की लाज रे || मेरे ||

-: इति :-


Share:

More Cheend Baare Dada

तर्ज :- देव मोगरा कली में भैरों

मोरे छींद बारे दादा दर्शन दईयो रे ,
भक्तों की सुनियो पुकार || मोरे ||

दक्षिण दिशा मुख हनुमत को,
सनमुख राम दरबार || मोरे ||

मंगल को मंगल कर दये रे,
महिमा है अपरम्पार || मोरे ||

राम भजन की लौ लागी रे,
राम को सेवा दार || मोरे ||

दुष्टों ने अत्याचार किये,
लियो रूद्र अवतार || मोरे ||

रावण ने सिया हर लई रे,
ढूंढ लाये पवन कुमार || मोरे ||

राम लखन चोरी भये रे,
अहिरावन दये मार || मोरे ||

"पदम्" लेत जो नाम तुम्हारो,
हो जाये बड़ा पार || मोरे ||

-: इति :-




Share:

Hari Bhajan Karne Se

तर्ज :- दिल के अरमान आसुओं में बह गए
फिल्म :- निकाह

हरी भजन करने से प्राणी तर गए,
भोले शिव भक्तों की विपता हर गए || हरी ||

जो सवाली द्वार पर उनके गए,
हर सवाली की वह झोली भर गए || हरी ||

भागीरथ की कठिन तपस्या देख कर,
शिव जटों में गंगा धारण कर गए || हरी ||

भस्मासुर को भस्म कंगन दे दिया,
अपने हाथों दुष्ट पापी मर गए || हरी ||

मैं अधम पापी हूँ अपना लो मुझे,
क्या मेरे पापों से शंकर डर गए || हरी ||

पापी धर्मी साधना जिसने करी,
वह "पदम्" दर्शन तुम्हारे कर गए || हरी ||

-: इति :-




Share:

Sunday, February 11, 2018

Yashoda Maiya Se Bas Itni Shikayat Hai

तर्ज :- सनम तू बेवफा के नाम से मशहूर है
फिल्म:- खिलौना

जसोदा मैया बस इतनी शिकायत है मनोहर की,
हमें छेड़े रे रस्ते यह आदत है मनोहर की ||

वो चोरी चोरी चुपके से हमारे घर में घुस आये,
वह माखन खाए ढुल्काए शरारत है मनोहर की ||

वह पनघट पे गुजरियों को भरने देता नहीं पानी,
सभी बरसाने गोकुल में यह शोहरत है मनोहर की ||

जसोदा बोली हंस करके, सुनो सखियाँ मेरी बतियां,
"पदम्" दुनिया से अलबेली मुहब्बत है मनोहर की ||

-: इति :-


Share:

Saturday, February 10, 2018

Pehle Ganraaj Ka Hum Naam Liya Karte Hain

तर्ज :- कव्वाली

पहले गणराज का हम नाम लिया करते हैं,
नाम के बाद कोई काम किया करते हैं ||

आज गणराज को दरबार में पुकारा है,
नैया मझधार में है तेरा ही सहारा है,
लगाना पार इसे मेरा यही नारा है,
नाथ गणराज सिवा कोई न हमारा है,
तेरे हर नाम का हम जाम पिया करते हैं || पहले ||

तुम्हें गणराज किसी रूप में आना होगा,
मूषे असवार हमें दर्श दिखाना होगा,
दर्श देकर के मेरे पाप मिटाना होगा,
लाज महफ़िल में मेरी तुमको बचाना होगा,
शान पर प्यार से हम जान दिया करते हैं || पहले ||

श्री गणराज मेरे ज्ञान को बड़ा देना,
ज्ञान अज्ञान का मुझको सबक पड़ा देना,
पीड़ा हर लेना मेरी, शान को बड़ा देना,
पापी लोगों को तेरी फूँक से उड़ा देना,
"पदम्" ह्रदय से तेरा गान किया करते हैं || पहले ||

-: इति:-


Share:

Wo Bholanaath Kailashi

तर्ज :- कव्वाली 

वह भोला नाथ कैलाशी ज़माने से निराला है,
गले में हार फूलों की जगह नागों की माला है ||

तेरे दरबार से शंकर, कोई खाली नहीं जाता,
है दुश्मन को मिटाने के लिए, त्रिशूल आला है || वह ||

बिना सोचे भसम कंगन, भस्मासुर को दे डाला,
वह जिसका नाम है भोला बड़ा ही भोला भाला है || वह ||

लगा त्रिपुंड माथे पर सजा है, हाथ में डमरू,
जटों में गंग की धारा मुकुट चंदा उजाला है || वह ||

है गौरा साथ में उनके बड़े दानी हैं अविनाशी,
"पदम्" वह बेसहारों को सहारा देने वाला है || वह ||

-: इति :-


Share:

Bappa Moriya Re

तर्ज :- मैं निकला गड्डी लेके,
फिल्म :- गदर

पत राखो गणराजा मूषे पे चढ़ के आजा,
बप्पा मोरिया रे लड्डू चोरिया रे ||

गौरा की आँख के तारे हो, शंकर के राज दुलारे हो ,
मंगल के स्वामी कहलाते,भक्तों के संकट टारे हो,
चलो पूजा करने को,भक्ति में नचने को,
मन हो रिया रे || बप्पा मोरिया रे ||

देवों में तुम गणनायक हो,भक्तों के विघ्न विनाशक हो,
रिद्धि सिद्धि के दाता हो, माता के बड़े उपासक हो,
पाना है गणपत को, दुनिया की झंझट को,
सब छोड़िया रे || बप्पा मोरिया रे ||

बप्पा के भोग तैयार करो, मोदक के लड्डू चार धरो,
गीतों की माला लिए "पदम्", श्री गणपति जी स्वीकार करो,
करना है जो दर्शन, मोह माया के बंधन,
सब तोड़िया रे || बप्पा मोरिया रे ||

-: इति :-


Share:

Kaise Aaun Mai Saawariya

रात आधी अंधियारी डर लागे,

कैसे आऊँ मैं सांवरिया ||


आस टूट गयी सासू मेरी जाग रही,
भेद सारा खोले है पायलिया || कैसे ||

प्रीत कैसे निभे दुश्मन हैं  जग वाले,
वह क्या जाने जिसने की प्यार ना किया || कैसे ||

आग विरहा की कैसे बुझे जाने "पदम्",
और काहे तड़पाये जुल्मी पीया || कैसे ||

-: इति :-


Share:

Zulmi Kanhaiya Se Lad Gaye Nain

तर्ज :- जारे कारे बदरा बलमा के द्वार 
फिल्म :- धरती कहे पुकार के

तन मेरा डोले है मन बेचैन,
जुल्मी कन्हैया से लड़ गए नैन,
                   अब ना सता ||

जाने ना दिल की तड़प मत बारो,
दिन बड़ी मुश्किल से बीते हमारो,
सपनों ही सपनों में कट जाये रैन || जुल्मी ||

प्रीत  तोसे लागी ज़माना चोरी चोरी,
गाँव मेरा बरसाना ग्वालन की छोरी,
पिया मिल जाये तो मिल जाए चैन || जुल्मी ||

श्याम श्री राधा की जोड़ी है आला,
मुरली की धुन पे नचे बृज की बाला,
बड़े अलबेले "पदम्" के यह बैन || जुल्मी ||

-: इति :-



Share:

Saturday, February 3, 2018

Kaashipati Aana Bigdi Banaana

तर्ज:- तेरे मेरे बीच में कैसा
फिल्म:- एक दूजे के लिए

भोले तेरे द्वार का मैं तो सवाली दीवाना,
काशीपति आना बिगड़ी बंनाना ||

बहती जटाओं से गंग तुम्हारे,
नंदी हमेशा रहे संग तुम्हारे,
शीश पे चंदा है सुहाना || काशीपति ||

पड़ी है तुम्हारे गले नागों की माला,
अंग भवुती मले पहने मृग छाला,
डम डम डमरू बजाना || काशीपति ||

कबसे पुकारे तुम्हें भोले भंडारी,
धूनी रमाई कहाँ त्रिपुंड धारी,
गौरा माँ को साथ में लाना || काशीपति ||

कहते हैं सब तुम्हें ओघड़ दानी,
"पदम्" किसी ने शिव की महिमा न जानी,
चरणों में शिव के गुण गाना || काशीपति ||

-:इति:- 


Share:

Friday, February 2, 2018

Main to Jholi Pasaroon Re

तर्ज:- मैं तो आरती उतारूँ रे संतोषी माता की
फिल्म:- जय माँ संतोषी

मैं तो झोली पसारूं रे चरणों में दाता की,
नमः शिवाय ॐ नमः शिवाय ||

बड़ी लीला अपरम्पार गंगा धारी की,
बहे सर पे से गंगा की धार गंगा धारी की,
दर्शन की चाह में भोले तेरी राह में,
जीवन गुजारूं रे || मैं तो ||

करूं विनती बारम्बार भोले कैलाशी,
मेरा बेड़ा कर दो पार भोले कैलाशी,
चरणों में आन पड़ा मैं तुम्हारे द्वार खड़ा,
शिव शिव पुकारूं रे || मैं तो ||

दे दो मुझको दया का वरदान ओघड़ वरदानी,
करो कृपा ओ कृपा निधान ओघड़ वरदानी,
भक्तों के कष्ट हरो और "पदम्" की झोली भरो,
नर तन सुधारूं || मैं तो ||

-: इति :-


Share:

Mooshe Aswaar Gajanand Tumhe Aana Hoga

तर्ज :- कव्वाली

मूषे असवार गजानंद तुम्हें आना होगा,
लाज महफ़िल में मेरी तुमको बचाना होगा ||

सभी देवों से पहले तुमको मना लेता हूँ,
झुका के शीश तेरा ध्यान लगा लेता हूँ,
सुनो गणराज तुम्हें अर्जी सुना देता हूँ,
नैया मझधार में है तुमको बता देता हूँ,
मेरी नैया किनारे तुमको लगाना होगा || मूषे ||

किसी के प्यार को ठुकराना नहीं अच्छा है,
किसी प्यासे को यूं तड़पाना नहीं अच्छा है,
आओ अब देर लगाना भी नहीं अच्छा है,
ऐसे में मुंह को छिपाना भी नहीं अच्छा है,
तुमको गणराज मुझे अपना बनाना होगा || मूषे ||

तुम्हारे चरणों में प्रणाम बार-बार मेरा,
बिना जल तड़पे मीन ऐसे तड़पे प्यार मेरा,
बिना दर्शन के जिया है यह बेकरार मेरा,
ज़िन्दगी मौत की नैया का तू पतवार मेरा,
"पदम्" की झोली में कुछ ज्ञान लुटाना होगा || मूषे ||

-:इति:-


Share:

Thursday, February 1, 2018

Mohan Muraliya Wala

तर्ज:- कजरा मुहब्बत वाला अखियों में
फिल्म:- किस्मत 1968

मोहन मुरलिया वाला गोकुल का है वह ग्वाला,
मुरली बजाये बेईमान, हाय रे मैं जाऊं बलिदान ||

दिल में बसाले कान्हा दिल को करार आये,
तू जो आजाये कान्हा मन में बहार आये,
काली कमलिया वाला गउएं चराने वाला,
माखन चुराए बेईमान || हाय रे ||

तेरी यादों से माना चेहरे पे नूर आये,
मुझे आशा है मेरा कान्हा ज़रूर आये,
सुन के बाँसुरिया तेरी तन में सुरूर आये,
नाचे सभी बृजबाला संग में है नन्द का लाला,
रास रचाए बेईमान || हाय रे ||

प्यारे कन्हैया मेरी आफत को टाल देंगे,
भिक्षा दया की मेरी झोली में डाल देंगे,
मुझे आशा है मेरी बिगड़ी संभाल देंगे,
दर पे "पदम्" है आया झोली भी खाली लाया,
काहे सताए बेईमान || हाय रे ||

-: इति :-


Share:

Mera Saawariya

तर्ज:- आने से उसके आये बहार

राधा लिए बैठी मन का सितार,
सदा आ रही है यही बार-बार,
बड़ा मतवाला है मेरा सांवरिया-2,
काली कमली वाला है मेरा सांवरिया-2 ||

वो बड़ा है छलिया कभी पनघट पे मुरली बजाये,
ऐसो है कन्हैया खाए माखन ज़मीं पे गिराए,
गिरधारी बनवारी वोही मुरली वाला है || मेरा ||

वह सताए ऐसे रोके मार्ग में ग्वालिन की छोरी,
जाने वो कहाँ से घर में घुस आता है चोरी चोरी,
तरसाए तडपाये यशोदा का लाला है || मेरा ||

जो भजेगा उनको उसकी बिगड़ी हरी ने बनाई,
श्याम की यह लीला इस तरह से "पदम्" ने है गाई,
दर्शाए मनभाये वो ही नन्द लाला है || मेरा ||

-:इति:-



Share:

Contributors

Follow by Email