Saturday, February 3, 2018

Kaashipati Aana Bigdi Banaana

तर्ज:- तेरे मेरे बीच में कैसा
फिल्म:- एक दूजे के लिए

भोले तेरे द्वार का मैं तो सवाली दीवाना,
काशीपति आना बिगड़ी बंनाना ||

बहती जटाओं से गंग तुम्हारे,
नंदी हमेशा रहे संग तुम्हारे,
शीश पे चंदा है सुहाना || काशीपति ||

पड़ी है तुम्हारे गले नागों की माला,
अंग भवुती मले पहने मृग छाला,
डम डम डमरू बजाना || काशीपति ||

कबसे पुकारे तुम्हें भोले भंडारी,
धूनी रमाई कहाँ त्रिपुंड धारी,
गौरा माँ को साथ में लाना || काशीपति ||

कहते हैं सब तुम्हें ओघड़ दानी,
"पदम्" किसी ने शिव की महिमा न जानी,
चरणों में शिव के गुण गाना || काशीपति ||

-:इति:- 


Share:

0 comments:

Post a Comment

Contributors

Follow by Email