Saturday, February 17, 2018

Pehle Sumar Leu Ganpati Ko

तर्ज :- अमुआ की डारि झूला डार दये मैया के ( जस )

माँ गौरा के लाल पहले सुमर लेऊं गणपति को,
दाता दीना दयाल पहले सुमर लेऊं गणपति को ||

गौरा की अंखियों के तारे,
शिव शंकर के राज दुलारे,
भक्तन के प्रतिपाल ||

रिद्धि और सिद्धि के दाता,
कहलाते हैं बुद्धि विधाता,
करते माला माल ||

मूषे पे असवार चलत है,
मोदक लड्डू चार चड़त है,
हो गए भगत निहाल ||

"पदम्" तुम्हारो ध्यान लगाये,
करे आरती मंगल गायें,
दर्शन को है सवाल ||

-:इति:-


Share:

0 comments:

Post a Comment

Contributors

Follow by Email