Wednesday, February 14, 2018

Hari Bhajan Karne Se

तर्ज :- दिल के अरमान आसुओं में बह गए
फिल्म :- निकाह

हरी भजन करने से प्राणी तर गए,
भोले शिव भक्तों की विपता हर गए || हरी ||

जो सवाली द्वार पर उनके गए,
हर सवाली की वह झोली भर गए || हरी ||

भागीरथ की कठिन तपस्या देख कर,
शिव जटों में गंगा धारण कर गए || हरी ||

भस्मासुर को भस्म कंगन दे दिया,
अपने हाथों दुष्ट पापी मर गए || हरी ||

मैं अधम पापी हूँ अपना लो मुझे,
क्या मेरे पापों से शंकर डर गए || हरी ||

पापी धर्मी साधना जिसने करी,
वह "पदम्" दर्शन तुम्हारे कर गए || हरी ||

-: इति :-




Share:

0 comments:

Post a Comment

Contributors

Follow by Email