Friday, April 20, 2018

Deewana Bhole Ka

------ तर्ज:- दीवाना राधे का ------

दीवाना भोले का -2, है सारा संसार,
दुअरिया नचले रे - 2, हो जाए उद्धार ||

लाल लाल अखियाँ है, लोटे में न भंगिया है, जल्दी करो गौरा रानी,
जाओ जाओ घोंट लाओ, हमें भंगिया पिलाओ, भोले करे मनमानी,
डम डम बजता है, डमरू यह  कहता है, धीर धरो करतार || दीवाना ||

समझन न आये, कोई जतन बताये, की भांग पिये या छुड़वादूं,
गौरा हैरान हुयी, बड़ी परेशान हुयी, भोले हुए बेकाबू,
दौड़ी गयी, दौड़ी आई, भंगिया को घोट लायी, पिया करो स्वीकार || दीवाना ||

राम राम जपता है, मरघटों, में बसता है, अंग भबूती रमाई है,
गंगा मान मारन को, भागीरथ तारन को, जटों में गंग रमाई है,
भूत प्रेत संग लिए, गल में भुजंग लिए, नाच रहे  त्रिपुरार || दीवाना ||

देव नहीं जान सके, वेद न बखान सके, शिवजी की महिमा न्यारी रे,
शिव महाकाल बने, देवों में दयाल बने, भक्तन के हितकारी रे,
"पदम्" पुकार करे, चरणों में शीश धरे, दर्श मिले इकबार || दीवाना ||

-: इति :-



Share:

0 comments:

Post a Comment

Contributors

Follow by Email

Archives