Monday, July 30, 2018

Aaya Janamdin Bitiya Tumhara

------ तर्ज:स्वर्ग से सुंदर, सपनो से प्यारा,है अपना घर द्वार ------

आया जनम दिन,बिटिया तुम्हारा,जुड़ा कुटुम परिवार।
तुम पर रहे बरसता यूँ ही,मात
पिता का प्यार ।।
उदय हो भाग्य तुम्हारा । यह आशीर्वाद हमारा ।।

1,बाबुल के आंगन में,बिटिया का बचपन खेला,माता के आंचल की,छैया में सुख दुख
झेला।।
बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, यही है एक अधार।।
उदय हो भाग्य तुम्हारा,,,,,,,,,

2,रूप रंग बिटिया का,सब देख भये मतबारे, नज़र नही लग जाये,नेना कर दये कजरारे ।।
दीप जला कर करी आरती,बहना करे दुलार।।उदय होभाग्य तुम्हारा,,,,,,,,,,

3,राम करेंगे पूरी,हर आशा तेरे मन की,फुलवारी महकेगी, बिटिया तेरे जीवन की।।
रानी बन कर राज करोगी,स्वर्ग बने घर द्वार ।।
उदय हो भाग्य तुम्हारा,,,,,,,,,

4,मामा मामी आये,ऒर दादा दादी आये,बिटिया की राहो में,चुन चुन कर फूल बिछाये ।
Happy Birthday to you  सबने,गाया बारंबार।।
उदय हो भाग्य तुम्हारा,,,,,,,,

पूनम के चंदा सी,चमके तकदीर तुम्हारी,,
"पदम"कहे बिटिया को,लग जाये उमर हमारी ।।
तेरे नाम का डंका बाजे, गली गली हर द्वार।।
उदय हो भाग्य तुम्हारा ।यह आशीर्वाद हमारा।।

             ।। इति ।।


Share:

0 comments:

Post a Comment

Contributors

Follow by Email