Thursday, June 28, 2018

Laal Dhwaja Fehraye Ho

------ तर्ज:- मोसे चढो नहीं जाये रे मैया तोरी ------

लाल ध्वजा फहराये हो मैया तोरी ऊंची पहाड़िया

लाल ह चूड़ी लाल ही बिंदिया,
लाल वरण पे लाल चुनरिया,
लाल ही गोटा जड़ाये हौ || मैया || 

लोंग इलायची के बीड़ा लगाये,
चंपा चमेली के हार बनाये,
लाल अनार चढ़ाये हो || मैया ||

लाल गुलाल से लाल भये हैं,
लाल तुम्हारे निहाल भये हैं,
मैया के रंग रंग आये हो || मैया ||

ज्योत करे जग में उजियारो,
एक सांचा है द्वार तुम्हारो,
सांच को आंच न आये हो || मैया ||

माँ जग जननी माँ कल्याणी,
आदि शक्ति आदि भवानी,
महिमा लिखी नहीं जाए हो || मैया ||

"पदम्" सुमर माँ तोरे जस गायें,
चरणों में तोरे ध्यान लगायें,
गीत सुमन बरसाए हो || मैया ||

-: इति :-


Share:

0 comments:

Post a Comment

Contributors

Follow by Email