Tuesday, May 1, 2018

Re Man Japle

------ तर्ज:- जट यमला पगला दीवाना ------
------ फिल्म:- यमला पगला दीवाना ------

रे मन जपले पगले दीवाने - ओ बन्दे,
मैया जी की महिमा न जाने - माने न माने,
मैया जी कमाल करती हैं || सबको  निहाल करती हैं ||

अपने ललन को माता वर देती है,
दुखियों के दुःख पल भर में हर लेती है,
ऐसी है दयालु भण्डार भर देती है,
डूबने वालों का बेड़ा पार कर देती है,
भरतीं दया से खजाने खजाने खजाने ||

अगन पवन चले मैया के इशारों में,
अमन का चमन महकता है पहाड़ों में,
पीले पीले शेर पे मैया की सवारी है,
अंगना में भक्त जनों की भीड़ भारी है,
मैया जी के भुवन सुहाने सुहाने सुहाने ||

नदियों के साथ बनाया है किनारों को,
काटों के साथ बनाया है बहारों को,
सूरज के साथ बनाया चाँद तारों को,
"पदम्" को प्यार लुटाया सेवादारों को,
मैया जी को आये हैं मनाने मनाने मनाने  ||

-:इति:- 


Share:

0 comments:

Post a Comment

Contributors

Follow by Email