Friday, May 18, 2018

Ambe Aajana

------ तर्ज:- मैं तो दीवाना भोले का दीवाना ------

अम्बे आजा....ना, जगदम्बे आ जाना,
आ जाना अम्बे आजा..ना, जगदम्बे आ जाना,
आजाना आजाना आजाना आजाना,
आजाना आजाना आजाना आजाना नाना ना नाना ना ना || अम्बे ||

आ जाना शेर सवारी, देखें सब राह तुम्हारी,
तेरे चरणों के पुजारी, सुनो मान विनती हमारी,
नैया मझधार पड़ी है, विपता बहुत बड़ी है,
कोई दीखे न किनारा, इसलिये तुमको पुकारा ||

माना हम बच्चे नहीं हैं, फिर भी कुछ अच्छे नहीं हैं,
सत्य आता नहीं हमको, झूठ भाता नहीं हमको,
ध्यान चरणों में लगेगा, तभी तो काम बनेगा,
माँ हमें राह दिखाना, लगे ठोकर तो उठाना ||

माँ को घर घर में तलाश, हर एक मंदिर में तलाश,
कहाँ रहती हो बता दो, कोई तो माँ का पता दो,
उन्हें एक चिठिया लिखूंगा, पहले प्रणाम करूँगा, 
सबकी नज़रों से गिरा हूँ, मोहमाया में घिरा हूँ ||



Share:

0 comments:

Post a Comment

Contributors

Follow by Email