Monday, May 7, 2018

Are Re Tu Mahan Hai Mata

------ तर्ज:- अरे रे मेरी जान है राधा ------

अरे रे तू महान है माता, करूँ मैं गुणगान है माता,
चरणों से करना नहीं दूर माँ || अरे रे ||

माता तू बनी मैं तेरा लाल बनूँगा,
दाती तू बनी मैं निहाल बनूँगा,
शाम सुबह मैया तेरा नाम जपूंगा,
द्वार खड़ा तेरी जय जयकार करूँगा || अरे रे ||

सुन्दर नैन विशाल तू मैया भोली भली है,
मैहर करे भक्तों पे माँ तू मैहर वाली है,
तू ही अम्बे तू जगदम्बे तू ही काली है,
सब देवों में मैया तू ही शक्ति शाली है || अरे रे ||

शेर पे बैठी मैया जब किलकार लगाती है,
खड़ग चले त्रिशूल कभी तलवार चलती है,
चंड मुंड महिषासुर योद्धा मार गिराती है,
रक्त बीज के लहू से भर खप्पर पी जाती है || अरे रे ||

धरती माता अब तू ही भार हरेगी माँ,
आतंकी दानव का कब संहार करेगी माँ,
भारत की नैया को तू ही पार करेगी माँ,
"पदम्" की अर्जी जाने कब स्वीकार करेगी माँ || अरे रे ||

-: इति:-


Share:

0 comments:

Post a Comment

Contributors

Follow by Email