Friday, March 31, 2017

Gannayak Ganraja Ab Hum Par Daya Kardo

------ तर्ज - होंठों को छूलो तुम मेरा गीत अमर कर दो ------
------ फिल्म   - प्रेमग्रंथ ------

। ।  श्री गणेश वंदना  । ।

गणनायक गणराजा अब हम पर दया कर दो ,
प्रथम तुम्हे  नमन करें नए गीत नए सुर दो । ।

गिरजा के नंदन हो तुम असुर निकंदन हो,
देवों में गजानंद हो भक्ति का हमे वर दो । । गणनायक । ।

तुम जिसपर कृपा करते भण्डार वहां भरते,
मंगल के स्वामी हो, भक्तों के दुःख हर दो     । । गणनायक । ।

रिद्धि और सिद्धि के संग नाथ चले आओ,
आदर से बैठालूँ तुम्हे ऐसा मन मंदिर दो        । । गणनायक । ।

जिस राह पे "पदम्" चले सत ज्ञान के दीप  जले,
यह छोटा सा नज़राना झोली में मेरे भर दो     । । गणनायक । ।


-: इति :-


Share:

0 comments:

Post a Comment

Contributors

Follow by Email